पुलिस की सख्ती के बाद भी नशा कारोबारी नहीं सुधरने को तैयार…

62

छत्तीसगढ़: उत्तर प्रदेश के छत्तीसगढ़ जनपद रायपुर में अवैध कारोबार बढ़ते ही जा रहे है। नशे के लती लोगों में शराब, गांजा, चरस, ड्रग्स, अफीम, कोकीन, ब्रॉउन शुगर जैसे नशीले पदार्थों का सेवन कर खुलेआम अपराधों को अंजाम दे रहे है। छत्तीसगढ़ नशीले पदार्थों की तस्करी में पीछे नहीं हैं। राजधानी में नशीले पदार्थों की तस्करी का खेल खुलेआम चल रहा है। और हर बार पुलिस ने राजधानी में चल रहे अवैध कारोबार पर नशीले पदार्थ बेचने वालों का भंडाफोड़ किया है। मगर फिर भी पुलिस ने हर बार अपराधों में लगाम कसने के लिए अलग-अलग प्रयास किये है मगर आपराधिक तत्व नशे के काले धंधों को छोडऩे के लिए तैयार ही नहीं होते है। आपराधिक तत्व के लोग नाबालिगों को भी अपने काले धंधे में शामिल कर लेते है। जिससे पुलिस को नाबालिग बच्चों पर शक नहीं हो पाता है। नशा आज के समय में लोगों के दिमाग को खोखला बनाते जा रहा है। और इंसान इस नशे की आड़ में कई संगीन अपराधों को भी करने से नहीं कतराते है। पुलिस के मुताबिक सरस्वती नगर, टिकरापारा, सिविल लाइन, मोवा, देवेंद्र नगर, खमतराई, मौदहापारा, गोलबाजार इलाकों में ब्राउन शुगर और नशे की सामग्री बेचने वालों के खिलाफ अभियान चलाया गया। रायपुर की कई निचली बस्तियों में अब सूखा नशा व्यापार भी तेजी से बढ़ गया है, किसी न किसी तरीके से तस्कर पुलिस के सामने से चकमा देकर निकल रहे है। जबकि पुलिस चप्पे पर लोगों की सुरक्षा में तैनात है। हर गली-मौहल्ले से पुलिस पेट्रोलिंग भी निकलती है उसके बाद भी नशे का अवैध कारोबार का होना अपने आप में ही कई सवाल खड़े कर रहा है।

रिपोर्ट: कमलेश कुमार सिधौली सीतापुर

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.