UP BJP के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी कोरोना वायरस से संक्रमित…

0 27

लखनऊ: तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमण से अब उत्तर प्रदेश में और भयावह स्थिति होने लगी है। कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण रविवार सुबह योगी आदित्यनाथ सरकार में प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमलरानी वरुण के निधन का निधन हो गया। शाम को सूचना आई कि उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी कोरोना वायरस से संक्रमित मिले हैं। उन्होंने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 3,953 नए मामले मिले हैं।

UP भाजपा के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने रविवार शाम को ट्वीट कर कहा कि ‘मुझे कोरोना के शुरुआती लक्षण दिख रहे थे, जिसके चलते मैंने अपनी कोविड-19 की जांच कराई। जांच में मेरी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। मुझसे संपर्क में आने वाले सभी लोगों से मेरा निवेदन है कि वे गाइडलाइन के अनुसार स्वयं को क्वारंटाइन कर लें और आवश्यकता अनुसार अपनी जांच करा लें। स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि डॉक्टर की सलाह पर मैं वर्तमान में अपने आवास पर होम क्वारंटाइन हूं। मेरा सभी प्रदेश्वासियों से निवेदन है कि पूरी सावधानी बरतें और सरकार की गाइडलाइन का सख्ती से पालन करें।

उत्तर प्रदेश में जैसे-जैसे जांच में तेजी आई है, कोरोनो वायरस से संक्रमितों की संख्या भी बढ़ी है। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में कोविड-19 के 3,953 नए मामले आए हैं। साथ ही, कोविड-19 के उपचार के बाद संक्रमण से मुक्त हो चुके 1,861 व्यक्तियों को डिस्चार्च किया गया है। प्रदेश में कोविड-19 के संक्रमण के नियंत्रण व उपचार के लिए टेस्टिंग का कार्य तेजी के साथ किया जा रहा है। प्रदेश में शनिवार को एक दिन में कुल एक लाख 14 हजार 822 टेस्ट किए गए। यह टेस्ट आरटीपीसीआर, ट्रू-नैट मशीनों तथा रैपिड एंटीजन टेस्ट के माध्यम से किए गए। प्रदेश में अब तक कोविड-19 के कुल 25 लाख 33 हजार 631 टेस्ट किए जा चुके हैं।

उत्तर प्रदेश में पूल टेस्ट के अन्तर्गत 3,460 पूल की जांच की गई। इसमें 3,175 पूल पांच-पांच सैम्पल के और 285 पूल 10-10 सैम्पल के थे। कोविड-19 के 38,023 मामले एक्टिव हैं। इनमें से 11,046 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। 1,255 मरीजों का प्राइवेट अस्पताल और 120 मरीजों का एल-1 सेमीपेड फैसल्टी में इलाज किया जा रहा है। शेष मरीजों को एल-1, एल-2 तथा एल-3 के कोविड डेडीकेटेड अस्पतालों में उपचार हो रहा है। अब तक 53,168 मरीजों का पूरी तरह से उपचार किया जा चुका है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.