जौनपुर में पिता ने पुत्र को कुल्हाड़ी से काट डाला, वजह सुनकर सब रह गए दंग…

134

जौनपुर: उत्तर प्रदेश के जौनपुर जनपद में जफराबाद क्षेत्र के उतरगावा गांव में शनिवार को देर रात पिता ने 30 वर्षीय पुत्र की कुल्हाड़ी से मारकर हत्या कर दिया। पुत्र की हत्या करने के बाद मौके से पिता फरार हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। रविवार को सुबह पिता को कुल्हाड़ी के साथ गांव के बाहर से गिरफ्तार कर लिया। हत्या करने के कारण के बारे में पुलिस पूछताछ कर रही है।
गांव निवासी राजमन 30 वर्ष अपने तीन भाइयों तथा दो बहनों में सबसे बड़ा था। दिल्ली रह कर कमाई करके घर का खर्च चलाता था। बीते चार जून को अपनी छोटी बहन रेशम की शादी करने के लिए दिल्ली से घर आया था। चार जून को बड़े धूमधाम के साथ राजमन अपनी छोटी बहन की शादी को संपन्न कराया था। 15 जून को पत्नी दो छोटे बच्चों को साथ लेकर वापस दिल्ली जाने वाला था। शनिवार को रात करीब 12 बजे राजमन अपने घर के बाहर चारपाई पर सोया हुआ था। सभी लोग गहरी नींद में थे।
राज मन के पिता इंद्रजीत हाथ पर कुल्हाड़ी लेकर राजमन के पास पहुंचा और गर्दन पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया। कुल्हाड़ी का वार तेज था। एक ही वार में आधा से ज्यादा गर्दन धड़ से अलग हो गया। राजमन चारपाई पर छटपटाने लगा। पास में सो रहे राजमन की पत्नी तथा छोटे भाइयों ने अपने पिता इंद्रजीत को भाई पर कुल्हाड़ी से प्रहार करते देखा। जोर-जोर से चीखने चिल्लाने लगे। इस दौरान इंद्रजीत मौके से फरार हो गया। स्थानीय लोग पुलिस को सूचना देकर जिला अस्पताल लेकर भागे। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने राजमन के शव को कब्जे में लेकर हत्यारे पिता की तलाश में लग गई। रविवार को सुबह घर से दूर गांव के बाहर सुनसान इलाके में स्थित नाले के पास से पिता को दबोच लिया।
पिता, दो छोटे भाई, दो बहन, पूरे घर की जिम्मेदारी जेष्ठ पुत्र राजमन के ऊपर थी। राजमन अपनी पत्नी निक्कू देवी व दो पुत्र अंश 6 वर्ष, वंश 3 वर्ष को अपने साथ दिल्ली में लेकर रहता था। कड़ी मेहनत कर पूरे घर का खर्च चलाता था। अपने जेष्ठ पुत्र की हत्या पिता ने क्यों किया यह जानकर हैरान हो जाएंगे। कहा जाता है क्रोध स्वयं का सबसे बड़ा दुश्मन होता है। क्रोध ने पिता से पुत्र की हत्या करवा दिया। थानाध्यक्ष राजाराम द्विवेदी ने बताया कि शनिवार को शाम खाना खाने को लेकर पिता पुत्र में झगड़ा हुआ था। राजमान ने पिता को डांट लगाई थी। उक्त डांट से क्षुब्ध पिता ने अपनी बेइज्जती का बदला लेने के लिए रात में शराब के नशे में कुल्हाड़ी से मारकर हत्या कर दिया।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.