कुलगाम मुठभेड़ में अल-बदर के दो आतंकी ढेर, 10 दिनों में 7 मुठभेड़, 13 आतंकी ढेर….

30

जम्मू-कश्मीर: नए साल पर कश्मीर में आतंकवाद को जड़ से समाप्त करने का संकल्प लेने वाले जम्मू-कश्मीर के सुरक्षाबलों ने एक बार फिर बड़ी कामयाबी हासिल की है। दक्षिण कश्मीर के जिला कुलगाम के हुसैनपोरा गांव में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच गत रविवार रात से जारी मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने अल-बदर के दो शीर्ष आतंकवादियों को मार गिराया है। यही नहीं मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार व गोलाबारूद भी बरामद हुए हैं। मारे गए आतंकियों की पहचान राशीद ठोकर निवासी हसनपोरा तबेला, इमाद मुजफ्फर निवासी अरीगाम के तौर पर हुई है। आइजीपी विजय कुमार ने बताया कि ये दोनों दिसंबर 2021 से आतंकवादी गतिविधियों में सक्रिय थे।

यह वर्ष 2022 की सातवीं मुठभेड़ थी। सुरक्षाकर्मी इन दस दिनों में 13 आतंकियों को ढेर कर चुके हैं। मारे गए इन आतंकियों में छह पाकिस्तानी आतंकी थी। आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर पुलिस सहित अन्य सुरक्षाबलों ने इस नवर्ष पर कश्मीर से आतंकवाद को पूरी तरह से समाप्त करने का संकल्प लिया है। अपने संकल्प को पूरा करने के लिए ही इस साल पहले दिन से ही सुरक्षाबलों ने अभियान चलाया हुआ है। हर दिन कश्मीर में कहीं न कहीं पर मुठभेड़ हो रही है।

पुलिस के अनुसार रविवार शाम को यह मुठभेड़ उस समय शुरू हुई जब सुरक्षाबलों को इस गांव में आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली। इसके तुरंत बाद पुलिस, सीआरपीएफ और सेना की संयुक्त टीम ने गांव में घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू कर दिया। जैसे ही सुरक्षाबल आतंकियों के छिपे ठिकाने के पास पहुंचे, आतंकियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। इससे मुठभेड़ शुरू हो गई। हालांकि इसके बाद सुरक्षाबलों ने मौके पर मौजूद आतंकियों को आत्मसमर्पण करने के लिए भी कहा लेकिन वे नहीं माने।

वहीं आइजीपी कश्मीर ने तीनों आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि करते हुए कहा कि ये तीनों स्थानीय आतंकी अल-बदर से संबंधित थे। सर्च ऑपरेशन पूरा होने के बाद मुठभेड़ को समाप्त करने की घोषणा कर दी गई।

संवाददाता अशोक कुमार

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.