UP में 12 IPS अफसरों का तबादला, कानपुर और आगरा रेंज के IG हटे…

36

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले पुलिस महकमे में तबादलों का सिलसिला तेज हो गया है। लंबे समय से जिलों में तैनात अधिकारियों और कर्मचारियों को नई तैनाती दी जा रही है। इसी क्रम में बुधवार को 12 आइपीएस अधिकारियों के तबादले किए गए हैं। इसमें कानपुर और आगरा रेंज के चार पुलिस महानिरीक्षक (आइजी) सहित आठ सेनानायक शामिल हैं।

जारी की गई तबादला सूची के अनुसार कानपुर के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल को पुलिस महानिरीक्षक टेक्निकल सर्विसेस बनाकर लखनऊ भेजा गया है। वहीं, प्रतीक्षारत प्रशांत कुमार को कानपुर का नया पुलिस महानिरीक्षक बनाया गया है। इसी प्रकार प्रतीक्षारत नचिकेता झा को आगरा के पुलिस महानिरीक्षक पद की जिम्‍मेदारी दी गई, जबकि आगरा के पुलिस महानिरीक्षक नवीन अरोड़ा को पुलिस महानिरीक्षक बजट बनाकर  लखनऊ भेजा गया है।

तबादला सूची के अनुसार योगेश सिंह को सेनानायक 47वीं वाहिनी पीएससी गाजियाबाद के पद से ट्रांसफर कर सेनानायक 25वीं वाहिनी पीएससी रायबरेली भेजा गया है। डॉ. अरविंद भूषण पांडेट को सेनानायक 25वीं वाहिनी पीएससी रायबरेली से एसपी टेक्निकल सर्विसेज लखनऊ ट्रांसफर किया गया है। संजय सिंह को सेनानायक 45वीं वाहिनी पीएससी अलीगढ़ के पद से ट्रांसफर कर सेनानायक द्वितीय वाहिनी पीएससी सीतापुर के पद पर तैनाती की गई है।

इसी प्रकार कल्‍पना सक्‍सेना को सेनानायक 49वीं वाहिनी पीएसी गौतमबुद्धनगर से सेनानायक 47वीं वाहिनी पीएससी गाजियाबाद के पद पर ट्रांसफर किया गया है। राहुल यादुवेंदु को सेनानायक द्वितीय वाहिनी पीएससी सीतापुर के पद से पुलिस अधीक्षक मुख्‍यालय पुलिस महानिदेशक लखनऊ के पद पर भेजा गया है। राजेश कुमार सक्‍सेना को सेनानायक 8वीं वाहिनी पीएससी बरेली, भारती सिंह को सेनानायक 49वीं वाहिनी पीएसी, गौतमबुद्धनगर और विकास कुमार वैद्य को सेनानायक 37वीं वाहिनी पीएसी कानपुर नगर के पद पर भेजा गया है।

विधानसभा चुनाव से पहले पुलिस महकमे में तबादलों का सिलसिला तेज हो गया है। लंबे समय से जिलों में तैनात अधिकारियों और कर्मचारियों को नई तैनाती दी जा रही है। इस क्रम में जल्द 35 प्रांतीय पुलिस सेवा (पीपीएस) अधिकारियों के तबादले की तैयारी है। इसी तरह एक जिले में तीन वर्ष से अधिक समय पूरा कर चुके अराजपत्रित पुलिस कर्मियों के स्थानांतरण का सिलसिला शुरू हो चुका है। जल्द ही करीब 135 और निरीक्षकों के तबादले किए जा सकते हैं। इसके अलावा आइएएस-पीसीएस अधिकारियों के स्थानांतरण भी किए जा रहे हैं। पिछले दिनों कई जिलों के डीएम और एडीएम बदले गए थे। सूत्रों के अनुसार पहली नवंबर से शुरु हो रहे मतदाता सूची के पुनरीक्षण अभियान से पहले बड़े पैमाने पर प्रशासनिक अधिकारियों को इधर से उधर किया जाना है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.