डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के घर के बाहर प्रदर्शन…

37

लखनऊ:  लखनऊ में 69000 शिक्षक भर्ती के पदों पर हुई भर्ती विवादों में है जिसको लेकर ओबीसी और एससी वर्ग के अभ्यर्थी शनिवार को डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या के घर के बाहर प्रदर्शन किए। भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए 4 महीने से ओबीसी और एससी वर्ग के अभ्यर्थी प्रदर्शन कर रहे हैं। राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग की रिपोर्ट लागू करते हुए शिक्षक भर्ती में नियुक्ति देने को कह रहे हैं| प्रदर्शनकारियों ने कहा कि केशव प्रसाद मौर्या को यहां तक लाने में ओबीसी का बड़ा योगदान है।

इससे पहले केशव प्रसाद मौर्या के कार्यक्रम इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में भी उन्होंने प्रदर्शन किया था। उस दौरान केशव प्रसाद मौर्य ने उन्हें सपा का कार्यकर्ता बता दिया था। आरोप है कि 69000 भर्ती में 20,000 भर्ती धांधली से हुई है। उसमें ज्यादातर सीटें ओबीसी और एससी की थी। इसमें ओबीसी के 16000 पद अन्य वर्ग को दे दिए गए हैं। केशव प्रसाद मौर्य बीजेपी में ओबीसी में आने वाले सबसे बड़े नेता है ऐसे में उनके आवास पर इसलिए प्रदर्शन किया गया है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.