उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले किसान आन्दोलन को तेज़ करने कवायद शुरू…

20

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में संयुक्त किसान मोर्चा के गठन के लिए लखनऊ के रैदास भवन में प्रदेश के 85 किसान संगठनों की राज्य स्तरीय बैठक पिछले दिनों राजधानी में संपन्न हुई थी। जिसके पश्चात यूपी प्रेस क्लब में उत्तर प्रदेश संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय नेता डा.दर्शन पाल, डा अशोक धावले, भाकियू के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हरनाम सिंह, गाजीपुर मोर्चा कमेटी के प्रमुख नेता डी.पी.सिंह एवं तजिन्दर सिंह विर्क ने बैठक के निर्णयों एवं आगामी कार्यक्रमों से अवगत कराया था। साथ ही उन्होंने पत्रकारों को जानकारी दी थी कि संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर 27 सितम्बर को भारत बंद के दिन उत्तर प्रदेश में ऐतिहासिक बंदी होगी। इसके साथ ही भारत बंद को सफल बनाने के लिए 17 सितम्बर को राज्य के सभी जिलों में किसान संगठनों की साझा बैठकें होंगी। इसी क्रम में आज पूर्व घोषित कार्यक्रम के अंतर्गत 27 सितम्बर को आयोजित भारत बंद की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए लखनऊ के संगठनों द्वारा राजधानी के नरही स्थित लोहिया मज़दूर भवन में एक अहम् बैठक की गई। इस अवसर पर भाकियू लोकतांत्रिक, भाकियु श्रमिक जनशक्ति, भाकिरू (धर्मेंद्र),किसान यूनियन, मज़दूर किसान मंच,लखनऊ किसान सभा, किसान मज़दूर संघर्ष मोर्चा, जनवादी किसान सभा, लखनऊ किसान सभा(एआईकेकेएस) सीटू,आॅल इंडिया वर्कर्स काउंसिल, एटक, एडवा,सोशलिस्ट पार्टी(इंडिया), भाजपा हराओ लोकतंत्र बचाओ मंच, जन संस्कृति मंच, रिहाई मंच, युवा भारत,
पीपुल्स यूनिटी फोरम इत्यादि संगठनों के प्रतिनिधि शामिल होकर किसान आन्दोलन को उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने किए जाने पर विचार विमर्श किया।साथ ही 27 सितम्बर को संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा भारत बंद को पूर्ण रूप से सफल बनाने की तैयारियों की समीक्षा की गई।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.